Australian man burned by exploding Samsung phone

Melbourne, Sep 7| An Australian man was left with burns when his Samsung smartphone “exploded” as he slept in his hotel room.

Tham Hua, from Victoria state who was visiting Western Australia, said his Samsung Galaxy Note 7 exploded in his hotel room, bursting into flames, Xinhua news agency reported.

man

“My brand new Note 7 exploded this morning while I was still asleep, it was plugged in and charging,” Hua posted on a technology forum in comments published on Wednesday.

“Phone completely fried… (Samsung) told me this is the first case in Australia.

“(It) charred the hotel room bed sheet and the carpet when I whacked it down to the floor, burnt one of my fingers while doing that too.”

Hua said the accident caused $1,300 worth of damage to his hotel room which Samsung offered to cover.

Samsung issued a global recall for its flagship smartphone Galaxy Note 7 units after the technology giant discovered a battery fault in the phone which caused it to explode.

More than 35 cases of the exploding battery defect have been reported since the phone, which retails for $1,035, was launched on August 19.

Samsung has now advised owners of the Galaxy Note 7 to turn off their phones and leave them off until they can be exchanged.

“Samsung Electronics Australia advises all customers who use a Galaxy Note 7 smartphone to power down their device, return it to its place of purchase and use an alternative device until a remedy can be provided,” Samsung said on Monday.

Hua said the staff had “no idea” what to do with his phone when he took it to a Samsung store “wrapped in newspaper and inside a zip-lock bag”.

“It’s the first time they saw such a thing,” he wrote.

Read more
Over 80% Pakistanis drink contaminated water

Islamabad, Sep 7 | More than 80 per cent Pakistanis consume contaminated and unsafe water, a top official said.

Minister for Science and Technology Rana Tanveer told the Senate that the Pakistan Council for Research in Water Resources (PCRWR) had conducted various water quality monitoring projects in the country and found 69-82% water samples to be contaminated, Dawn online reported.

The PCRWR, which is a research and development organisation of the Ministry of Science and Technology, reported that major contamination was due to bacteria (coliforms), toxic metals (mainly arsenic), turbidity, total dissolved solids (TDS) and nitrate and fluoride pollution, Tanveer said.

 pka minister__1470038791

Besides setting up 24 state-of-the-art water testing laboratories around the country, several other initiatives have also been undertaken. These included the development of microbiological testing kits, low-cost arsenic detection testing kits and production of chlorination and disinfection tablets.

However, bacteriological, arsenic and turbidity are the leading causes of contamination in the drinking water, Dawn online quoted Tanveer as saying.

Microbiological contamination remains one of the leading causes of cholera, diarrhoea, dysentery, hepatitis, typhoid etc., and arsenic causes various types of kidney, skin and heart diseases, hypertension, birth defects and multiple types of cancer, according to the PCRWR.

A man (R) cools off under a public tap, while others wait to fill their bottles, during intense hot weather in Karachi, Pakistan, June 23, 2015. A devastating heat wave has killed more than 400 people in Pakistan's southern city of Karachi over the past three days, health officials said on Tuesday, as paramilitaries set up emergency medical camps in the streets. REUTERS/Akhtar Soomro - RTX1HPUL

A senior PCRWR official told Dawn online that the function of its laboratories were in jeopardy due to the lack of funds.

Set up at a cost of 1.2 billion Pakistani rupees (about $11 million), the labs were to identify contamination in drinking water and ensure the availability of potable water to the citizens.

Read more
मज़दूर ने विल और केट के साथ ली सेल्फी

अगर सेल्फी की बात करें तो ब्रिटेन के राजशाही घराने के साथ ली हुई सेल्फी से अच्छी सेल्फी कोई नहीं हो सकती है।

वैसे तो ब्रिटेन के राजशाही घराने में किसी को भी सेल्फी लेना पंसद नहीं है। लेकिन ब्रिटेन के एक मज़दूर सैम वेन ने दो सालों में राजशाही घराने के साथ दो सेल्फी ली है। इसी दो सेल्फी के कारण सैम वेन इन दिनों चर्चा का विषय बना हुआ है।

राजकुमार हैरी को सेल्फी लेना बिलकुल भी पंसद नहीं है। जबकि महारानी एलिजाबेथ को कुछ ही सेल्फीज़ लेना पंसद है। एक रिर्पोट के अनुसार, महारानी एलिजाबेथ को सोशल मीडिया बहुत पंसद है, लेकिन महारानी को लोगों से आमने-सामने मिलना ज़्यादा अच्छा लगता है। ब्रिटेन की राजकुमारी केट मिडलटन ने हाल ही में ‘स्नैपचैट’ पर अपना अकाउंट खोला है लेकिन अभी तक उन्होंने बेटे जॉर्ज और बेटी शेर्लोट के साथ अपनी कोई भी फोटो शेयर नहीं की है।

sam Wayne

 

ट्रूरो कैथेड्रल की यात्रा के बाद जब राजकुमार विलियम और राजकुमारी केट ‘कार्नवॉल’ घूमने गए तब वहां पर इस जोड़ी ने  घर और ऑफिस के निर्माण में काम करने वाले मज़दूरों से मुलाकात की। उसी दौरान वहां काम कर रहे मज़दूरों में से एक सैम वेन ने पहले से ही राजशाही परिवार के साथ सेल्फी लेने की योजना बना रखी थी।

साल 2014 में प्रिंस चार्ल्स के साथ सेल्फी लेने वाले सैम वेन ने कहा ” मैं राजशाही घराने का बहुत बड़ा प्रशंसक हू्ँ और मुझे सेल्फी लेना बहुत पंसद है। मैंने पहले से ही सेल्फी लेने की योजना बना रखी थी, लेकिन मुझसे कहा गया था कि मैं उनके साथ सेल्फी नहीं ले सकता हूँ लेकिन फिर भी मैंने उनके साथ सेल्फी ली है जो बहुत अच्छी है”।

Read more
बुल्गारिया के पहलवान पर आईएसआईएस ने घोषित किया 34 लाख रु. का ईनाम

बुल्गारिया और तुर्की के सीमा पर रक्षक के रुप में गश्त लगाने वाले 29 वर्षीय पूर्व पहलवान दिनको वालेव पर आईएसआईएस ने तकरीबन 34 लाख रुपए का ईनाम घोषित किया है। दरअसल दिनको ने कुछ लोगों के साथ मिलकर एक ऐसा समूह बनाया है जो तुर्की से आने वाले अवैध प्रवासियों पर नज़र रखते हैं और उन्हें पकड़ कर बुल्गारिया के अधिकारियों के हवाले कर देते है।

Pic shows: Dinko Valev; The bounty hunting business rounding up asylum seekers appears to be doing well for a Bulgarian after he posted images of himself with a brand-new VIP motor. Controversial Dinko Valev, 29, posted a YouTube video in which he showed off his brand-new Mercedes S-Class Coupe and thanked his supporters for making it possible. Dinko organised horseriding fellow bounty hunters backed up by military vehicles to patrol woodlands near the city of Yambol located in southeastern BBulgaria rounding up asylum seekers. Local police initially supported him but then seemed to change their minds and attempt to crack down on his operation, causing widespread protest in Bulgaria. The government then stepped in giving their backing to his private initiative, and since then he has been flooded with support and new members. It is unclear exactly what sponsors or funding he gets, but in the video he thanked all those that had made the purchase of the car possible. One of the lucrative deals that is known about is that he was offered 150,000 lev (66,500 GBP) to take part in a local version of Big Brother. He said: "There should be fans, because without fans, man is nothing. I love you, because without you this does not work." On the video he gives in sitting inside the car listening to a song of controversial singer Svetlana Raznjatovic – aka Ceca - who is the widow of notorious war criminal Zeljko Raznatovic – aka Arkan who was killed 16 years ago. He then added: "I thank God for giving me the opportunity to buy it. I wish accident-free driving." The Mercedes is a luxury motor in Bulgaria with the basic model costing 73,200 GBP and the most expensive model 215,000 GBP. The video was posted up on his YouTube channel which includes videos of his exploits rounding up asylum seekers including children and women, seen lying on the ground surrounded by his group. His initiative has been slammed by the Helsinki Committee for Human Rights but they were drown

दिनको वालेव

पूर्व पहलवान दिनको वालेव और उनका समूह हथियारों के साथ अपने निजी वाहनों से सीमा पर गश्त लगाते हुए तुर्की से होने वाले अवैध तस्करी और सीरिया से भाग रहे प्रवासियों पर नज़र रखते है। दिनको अक्सर घोड़े पर सवार हो सीमा पर गश्त लगाते है।

NINTCHDBPICT000263207547

दिनको वालेव

दिनकों ने प्रवासियों की कई तस्वीरें पोस्ट की है जिनको उन्होंने या उनके समूह ने गश्त के दौरान सीमा को पार करते हुए पकड़ा है।

Pic shows: Captured refugees. The Bulgarian Prime Minister Boyko Borisov has waded in on the side of a self-styled refugee bounty hunter and thanked him for the work in detecting illegal immigrants. Dinko Valev, 29, has equipped his team of bounty hunters with two armoured personnel carriers (APC) to travel around his home in the city of Yambol in south-eastern Bulgaria, near the border with Turkey, where they round up asylum seekers and hand them over to authorities. He had been criticised by the Helsinki Committee for Human Rights after organising the vigilante groups to patrol the border and hunt down illegal immigrants but as these latest videos show he and his team, which included a group equipped for travel on horseback, are continuing to round up illegal immigrants. The Bulgarian Prime Minister stepped into the debate after widespread anger when police had arrested the bounty hunters, and apparently ignored the illegal immigrants they had rounded up during a recent excursion. He said that instead of being criticised, authorities should welcome any help they were offered in tackling illegal immigration as long as it did not exceed the law. He did not comment on the latest video which showed the immigrants lying on the ground with their hands tied behind their backs. The faces of the people that have captured them cannot be seen, but they are wearing military uniforms and are saying to the migrants: "Turkey, go to Turkey! Bulgaria no, go to Turkey immediately." Borisov said: "I personally have talked to them and thanked them. I sent the director of the Bulgarian border policed to meet with them, so they can coordinate what they do. At the end of the day the country is ours and we should be united. Anybody who helps us in tackling problems deserves a thank you." Borisov added that Bulgaria was already doing an exceptional job in guarding the EU outer border against illegal immigrants. He stated that the Bulgarian army and border police are capable of guar

एक तस्वीर में एक युवक के साथ कुछ लड़कियां और दूसरी तस्वीर में एक दर्जन भर प्रवासी युवकों को गिरफ्तार दिखाया है। इन सभी प्रवासियों को दिनको और उनके समूह के लोगों ने गिरफ्तार किया है।

ETC

गिरफ्तार प्रवासी

कभी-कभी तो दिनको योमबोलोन नाम के शहर के नज़दीक विभाजन रेखा के पास भी घोड़े पर सवार हो गश्त लगाते है। इस तरह से यह पूर्व पहलवान अपने देश में इतना प्रसिध्द और सक्षम हो गया है कि वह तकरीबन 64 लाख रुपए की मर्सडीज-एस क्लास कार खरीद पाया है।

दिनको को टैटू बहुत पसंद है इसलिए उन्होंने अपने शरीर पर बहुत सारे टैटू भी बनवाए है। लेकिन अपने इन कामों के कारण नज़र में आए दिनको ने आतंकी संगठन समूूह आईएसआईएस को बहुत क्रोधित किया है। इसीलिए आईएसआईएस ने दिनको काे मारने के लिए ईनाम भी घोषित किया है।

बुल्गारिया की स्टेट सिक्योरिटी सर्विसेज़ ने दिनको को चेतावनी दी है कि वह आईएसआईएस के प्रमुख निशाने पर है क्योंकि प्रवासियों के पकड़ते हुए उनकी फोटो उजागर हो गई है। आईएसआईएस साईट के संदेश में दिनको को पैरामिलिट्री यूनिट का मुखिया बताया गया है जो अपने साथ दर्जन भर लोगों के साथ बुल्गारिया और तुर्की सीमा पर गश्त लगाता है। संदेश में यह वादा किया गया है कि दिनको की मृत्यु साबित करती हुई तस्वीर लाने पर ईनाम दिया जाएगा।

लेकिन दिनको ऐसी धमकियों को अपनी शान समझते हैं और उसे अपनी साईट पर भी लगाकर रखते है। उन्होंने इस पर यह कहा है कि “मैं एक सार्वजनिक सेवा करता हूँ”। बुल्गारिया में दिनको इतने प्रसिध्द है कि उन्हें देश के ‘बिग ब्रदर’ के संस्करण पर लगभग 58 लाख रुपए पर आमंत्रित किया गया है।

Pic shows: Bulgarian Prime Minister Boyko Borissov visiting the navy forced that guard the borders. The Bulgarian Prime Minister Boyko Borisov has waded in on the side of a self-styled refugee bounty hunter and thanked him for the work in detecting illegal immigrants. Dinko Valev, 29, has equipped his team of bounty hunters with two armoured personnel carriers (APC) to travel around his home in the city of Yambol in south-eastern Bulgaria, near the border with Turkey, where they round up asylum seekers and hand them over to authorities. He had been criticised by the Helsinki Committee for Human Rights after organising the vigilante groups to patrol the border and hunt down illegal immigrants but as these latest videos show he and his team, which included a group equipped for travel on horseback, are continuing to round up illegal immigrants. The Bulgarian Prime Minister stepped into the debate after widespread anger when police had arrested the bounty hunters, and apparently ignored the illegal immigrants they had rounded up during a recent excursion. He said that instead of being criticised, authorities should welcome any help they were offered in tackling illegal immigration as long as it did not exceed the law. He did not comment on the latest video which showed the immigrants lying on the ground with their hands tied behind their backs. The faces of the people that have captured them cannot be seen, but they are wearing military uniforms and are saying to the migrants: "Turkey, go to Turkey! Bulgaria no, go to Turkey immediately." Borisov said: "I personally have talked to them and thanked them. I sent the director of the Bulgarian border policed to meet with them, so they can coordinate what they do. At the end of the day the country is ours and we should be united. Anybody who helps us in tackling problems deserves a thank you." Borisov added that Bulgaria was already doing an exceptional job in guarding the EU outer border against illegal immigrants. H

बुल्गारिया के प्रधानमंत्री बोयको बोरिसोव

इस पर दिनको ने कहा वह वहां तभी जाएंगे, जब वहां पर उनके प्रशंसक होंगे, क्योंकि बिना प्रशंसकों के इंसान कुछ भी नहीं है। उन्होंने अपने प्रशंसकों से कहा “मैं आपसे प्यार करता हूँ, क्योंकि आपके बिना यह काम संभव नहीं होता”। दिनको को देश के प्रधानमंत्री का भी समर्थन प्राप्त है।

Read more
मार्गोट रोबी की सफलता यात्रा

 

1990 में जन्मी, मार्गोट रोबी जानी मानी एक ऑस्ट्रेलियाई अभिनेत्री है । यह ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में अपने दादा दादी के फार्म में पली बढ़ी। इनके फैन उन्हें “रोबी” के नाम से पुकारते है।

margot

इन्हें सर्फ करना प्यारा लगता है, इतना प्यारा की जब वह 10 साल की थी तब मार्गोट ने एक गेराज बिक्री पर अपना पहला सर्फ़बोर्ड खरीदा था ।

margot2

उनकी मां, सोप केसलर, एक फिजियोथेरेपिस्ट और पिता डग रॉब खेत के मालिक है । वह चार भाई बहन, है बड़े भाई लचलान , छोटे भाई कैमरन और एक बड़ी बहन अन्या है।

margot2

रोबी समरसेट कॉलेज से स्नातक किया। किशोरावस्था में यह अपने एक्टिंग करियर के लिए मेलबोर्न चली गई।

margot3

इन्हें अपना पहला ब्रेक फ़िल्म विजिलांटे (2008) और I.C.U. (2009) में मिला। 2008 में इन्होंने “डोना फ्रीडमैन” सोपा ओपेरा में, पड़ोसी (1985) में काम किया । उनकी यह भूमिका और प्रदर्शन लोकप्रिय साबित हुआ, जिसके कारण उन्हें “कई लोगी” पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था।

EDITORIAL USE ONLY / NO MERCHANDISING  Mandatory Credit: Photo by FremantleMedia/REX (4431558c)  Margot Robbie as Donna Freedman, Jackie Woodburne as Susan Kennedy  'Neighbours' TV Programme, Australia. - 2009  Ep 5628 - TX UK 22/04/2009

इन्होंने 2010 में यह शो छोड़ दिया और 2011 में पैन एम “लौरा कैमरून” की मुख्य भूमिका निभाई । 2013 में, मार्गोट ने “रिचर्ड कर्टिस” रोमांटिक कॉमेडी-ड्रामा फिल्म से बड़े परदे में शुरुआत की ।

robbie

इसके बाद उनकी फ़िल्मो का जादू सा चलने लगा, एक के बाद उनकी कई फ़िल्मे आई जैसे मार्टिन स्कोरसेस की बायोपिक, वॉल स्ट्रीट के वुल्फ, अबाउट टाइम, द बिग शार्ट और भी कई फ़िल्मे है ।

la

2016, में इनकी दो धमाके-दर फ़िल्मे रही ‘द लिजेंड ऑफ़ टार्ज़न’, ‘सुसाइड स्क्वड’ , ‘’लार्रीकीन्स’’ इनकी अगली फ़िल्म है, जो 2018 में आने वाली है । यह फ़िल्म अमेरिकी कंप्यूटर एनिमेटेड कॉमेडी है इस फ़िल्म में आपको इनकी आवाज़ का जादू बिखरेगा ।

margot5

इतनी सफल होने के बावजूद यह अभी भी लंदन के एक फ्लैट में अपनी 4 रूममेट्स के साथ रहती है।

margot6

2014 के बाद से, रोबी ब्रिटिश सहायक निदेशक टॉम एकरले के साथ रिलेशनशिप में रह रही है। जिसे वह “सुइट फ्रांसेस’’के सेट पर मिली थी ।

margot7

Read more
नॉर्वे में तूफान से 300 से अधिक जंगली हिरन मरे

दक्षिणी नॉर्वे में हरदंगेरविदड़ा पहाड़ है जो पर्यटकों और पैदल यात्रियों के बीच लोकप्रिय है, यह पहाड़ अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए जाना जाता है। मौसम परिवर्तन के कारण शुक्रवार की रात एक दुखद हादसा हुआ, जिसमे 300 से अधिक जंगली हिरन बिजली गिरने से मारे गए, इन जंगली हिरन में 70 युवा हिरन थे।

Some 323 dead wild reindeers struck by lightning are seen littering a hill side on Hardangervidda mountain plateau in central Norway on Saturday August 27, 2016. The unusually high death toll was put down to the lightning strike and the fact that reindeers often stand close to each other. The Hardangervidda plateau, a large portion of which forms a national park, is a popular destination for outdoor activities and is home to an estimated 10,000 wild reindeers according the Norwegian Wild Reindeer Centre. / AFP PHOTO / HO/Norwegian Environment Agency / Haavard Kjontvedt / RESTRICTED TO EDITORIAL USE - MANDATORY CREDIT "AFP PHOTO / Norwegian Environment Agency / Haavard Kjontvedt" - NO MARKETING - NO ADVERTISING CAMPAIGNS - DISTRIBUTED AS A SERVICE TO CLIENTS HAAVARD KJONTVEDT/AFP/Getty Images

                                                                                                                                                                     photo:thesun 

ऊपर तस्वीर को देखकर आप उस भयानक तूफान का अंदाज़ा लगा सकते है। एंटोन कर्ज जीव विज्ञानी और मुख्य कार्यकारी अधिकारी का कहना है की ”हम इस त्रासदी से हैरान हैं”

In this image made available by the Norwegian Environment Agency on Monday Aug. 29 2016, shows some of the more than 300 wild reindeer that were killed by lighting in Hardangervidda, central Norway on Friday Aug. 26, 2016 in what wildlife officials say was a highly unusual massacre by nature. (Havard Kjotvedt /Norwegian Environment Agency, NTB scanpix, via AP)

 photo:thesun

यह यूरोप का सबसे बड़ी रोलिंग पहाड़ी है जो हिरन के झुंड के आलावा यहाँ  लगभग 10,000 जानवर भी रहते हैं।

Read more
उत्तर कोरिया के तानाशाह ”किम जोंग उन” का सोशल मीडिया युद्ध

किम जोंग उन उत्तर कोरिया का एक ऐसा तानाशाह नेता है, जिसके तानाशाह के किस्से पूरी दुनिया में मशहूर हैं। किम जोंग इल को ”डियर लीडर” के नाम से भी जाना जाता है, यह नाम उन्हें नॉर्थ कोरिया की जनता ने दिया था। इनका जन्म 1941 में माउंट पेक्टू में हुआ। उन्होंने अपने पिता की मौत के बाद 2011 में सत्ता संभाली थी।

kim

photo:google

इस तानाशाह ने एक नया तरीका निकाला सरकार के रहस्यों का पता लगाने के लिए जिसमे वह फेसबुक का प्रयोग कर रहे है। पहले के ज़माने में सरकारी सीक्रेट सर्विस आकर्षक महिलाओ का प्रयोग कर अन्य देशों के डिप्लोमेट्स से राष्ट्रीय सीक्रेट्स निकल वा लाते थे, जैसा हम अक्सर जेम्स बॉन्ड की फिल्मो में देखा करते है। इन आकर्षक महिलाओं को “‘हनी ट्रैप्स” कहा जाता है।

लेकिन किम का यही काम फेसबुक के जरिया चलता है, जी हाँ, अपने बिल्कुल सही पढ़ा। वह फेसबुक पर आकर्षक महिलाओ की प्रोफाइल बनाकर अन्य देशों के डिप्लोमेट्स को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज, चैटिंग करवाते है।

3000

यह एकाउंट्स फेसबुक बोटा का प्रयोग करती है। जो कंप्यूटर सॉफ्टवेर से बनाये जातें है और दूसरे इंसान को पता भी नहीं चलता की वह एक महिला से नहीं बल्कि एक कंप्यूटर प्रोग्राम से चैटिंग कर रहा है।

FILE - In this Monday, June 4, 2012, file photo, a girl looks at Facebook on her computer in Palo Alto, Calif. With 2016 still fresh, its a good time to do some digital cleanup to your Facebook account. Review your security and privacy settings, and get rid of acquaintances cluttering your friends list. (AP Photo/Paul Sakuma, File)

photo:thesun

किम का यह प्लान इतना कामियाब साबित हो रहा है की साउथ कोरिया ने अपने अधिकारियों को चेतावनी दी है आकर्षक महिला उन्हें फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजती है , तो वह उसको स्वीकार न करें।

इन इमेल्स के ज़रिए नार्थ कोरिया ने साउथ कोरिया के ख़ास लोगो के इमेल्स हैक कर लिया क्योंकि साउथ कोरिअन्स को वह सच में लगा की वह प्रतिनिधि है।

kim1

photo:google

किम जोंग उन को उत्तरी कोरिया से बहार की दुनिया में एक राक्षस का रूप कहा जाता है।इसके कारण कई है। किम जोंग उन जब से सत्ता में आए है तब से 70 कत्ल करवा चुके है। 2014 में जोंग ने करीब 50 अधिकारियों को सिर्फ इसलिए गोली मरवा दी कि वे अपने दुश्मन और पड़ोसी देश साउथ कोरिया का एक टीवी सीरियल देख रहे थे।

kim2

photo:google

इतना ही नही किम जोंग ने नॉर्थ कोरिया के रक्षा प्रमुख व अपने चाचा की हत्या के साथ अपनी गर्लफ्रेंड की हत्या कराने का भी आरोप लग चुका है और अपने ही रिश्तेदार को कुत्तों के सामने डाला और डिप्टी पीएम को भी मारा। 

Read more

एंजेला मार्केल की हत्या का प्रयास विफल

प्राग, 26 अगस्त| चेक गणराज्य की पुलिस ने राजधानी प्राग में जर्मन चांसलर एंजेला मार्केल की हत्या के प्रयास को विफल कर दिया। पुलिस ने एक हथियारबंद आदमी को हिरासत में लिया है, जो प्राग के दौरे पर आईं मार्केल के काफिले में शामिल होने की कोशिश कर रहा था।

Angela..

वेबसाइट ‘मिरर’ की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस के प्रवक्ता जोसेफ बोकान ने गुरुवार को कहा कि साजिश रचने के आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है।  जोसेफ ने कहा, “वह अपराधिक गतिविधि के प्रयास का संदिग्ध है, विशेषकर अधिकारी के खिलाफ हिंसात्मक कृत्य का।” पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि इस घटना की प्राग के खुफिया अधिकारी जांच कर रहे हैं।

मार्केल यहां चेक गणराज्य के प्रधानमंत्री बोहुस्लाव सोबोत्का से मिलने आईं थी और वह हवाईअड्डे से शहर की ओर जा रही थीं, जब अचानक एक संदिग्ध काली मर्सिडीज दिखाई दी। मर्सिडीज के चालक ने जर्मनी की चांसलर के साथ चल रही पुलिस की कारों द्वारा दिए गए आदेश के पालन से इनकार कर दिया।

संदिग्ध ने मार्केल के काफिले में घुसने की कोशिश की और उसे ऐसा करने से रोक रहे पुलिस के वाहन को टक्कर भी मारी। पुलिस की ओर से गोली मारे जाने की धमकी मिलने के बाद ही उसने अपनी गाड़ी रोकी।

यह घटना उस वक्त सामने आई है, जब आंतकवादी हमलों को देखते हुए पिछले 12 माह से यूरोप में हाई अलर्ट पर है। इस्लामिक स्टेट (आईएस) द्वारा फ्रांस, जर्मनी और बेल्जियम जैसे देशों में आतंकवादी हमले किए गए हैं, जिसमें सैकड़ों लोगों मौत हो चुकी है।

Read more
पार्टनर को खोने के बाद यह महिला एक महीने तक न्यू ज़ीलैण्ड के पहाड़ो में फंसी रही

26 जुलाई को पार्टनर के साथ की थी यात्रा प्रारम्भ

पावलीन पीज़ोवा, चेक टूरिस्ट जिसने न्यू ज़ीलैण्ड के पहाड़ो में एक महीना बिताया, ने मीडिया को अपनी दास्ताँ सुनाई। पीज़ोव ने बताया की किस तरह उन्होंने पहाड़ो में एक आश्रय ढूंढने से पहले तीन रात खुले में ठिठुरती ठण्ड में बिताया।

5000

पीज़ोव (33), और उनके पार्टनर आंद्रेज पीटर (27), ने साउथ आइलैंड से 26 जुलाई को प्रसिद्ध फ़ियोर्डलैंड नेशनल पार्क के रोउटबर्न की और ट्रैकिंग की यात्रा प्रारम्भ की। पीज़ोवा ने शुक्रवार को क़ुईन्सटाऊन को दिए इंटरव्यू में बताया की किस तरह भयावह सर्दी में दो दिन के बाद ही कोहरे और भारी बर्फ़बारी के कारण यह जोड़ा गुमराह हो गया।

1275                          पावलीन पीज़ोवा अपने पार्टनर आंद्रेज पीटर के साथ

दो दिन बाद ही खो दिया पार्टनर को

इस जोड़े ने एक रात खुले में बितायी और पीजोव के अनुसार उसके अगले दिन ही पीटर फिसल कर ढलान के नीचे गिर गया और शीघ्र ही उसकी मृत्यु हो गयी। इसके पश्चात पीज़ोव ने दो और राते खुले में बिताने के पश्चात किसी तरह उस हट तक पहुँचने का रास्ता ढूंढ लिया जो उस 32 किमी ट्रैक के रास्ते में ही पड़ता था।

3024                           रॉउटबर्न ट्रैक से ली गयी एक तस्वीर

पीज़ोव के पास भोजन, जलाऊ लकड़ी और गर्म रहने के लिए गैस था। वहां एक रेडियो भी था लेकिन अंग्रेज़ी में दिए गए निर्देश न समझ पाने के कारण वह उसका इस्तेमाल नही कर पायी। वह जानती थी की आगे हिमस्खलन का रास्ता था इसलिए उन्होंने वही ठहरना सुरक्षित समझा। महीने भर के उस प्रवास के दौरान पीज़ोव लकड़ी द्वारा एक जोड़ी जूते बनाने में सफल हो गयी।

640      रूटबर्न ट्रैक का वह हट जहाँ पिजोवा ने अपने पार्टनर की मौत के बाद एक महीना बिताया

उन्होंने बर्फ में एक बड़े ‘एच’ (हेल्प) का निर्माण किया ताकि ऊपर से जा रहे हेलीकाप्टर का ध्यान अपनी ओर खींच पाए। इस जोड़े ने किसी को भी अपनी हाईकिंग की योजना के बारे में नही बताया था और जब तक चेक दूतावास ने इस ओर ध्यान दिया तब तक लगभग एक महीना बीत चूका था। पुलिस को इस दम्पति की गाडी बुधवार को ट्रेल्हेड के पास मिली जिसके तुरंत बाद हेलीकाप्टर को उसी रूट पर भेजा गया, जो 1.30 pm बजे पीज़ोव के पास पहुँच गए। 

2621                          लेक मेकैंज़ीए हट जहाँ पेज़ोवा ने आश्रय लिया

पुलिस ने बताया की उन्हें सुरक्षित वहां से लाने के बाद पिजोवा काफी ‘राहत’ से भरा हुआ महसूस कर रही थी। पिजोवा ने प्रेस कांफ्रेंस में न्यू ज़ीलैण्ड पुलिस और अपने अनुवादक का धन्यवाद किया। उन्होंने रेस्क्यू टीम को ‘हीरो’ कहकर उनका भी शुक्रिया अदा किया। इसके साथ ही पिजोवा ने बाकी सभी टूरिस्ट को प्रोतसाहित किया वो अपने “हाईकिंग योजनओ के बारे में किसी विश्वासपरत व्यक्ति को जरूर बताकर जाये तथा अपने साथ एक इमरजेंसी लोकेटर बीकन लेकर जरूर जाये और न्यू ज़ीलैण्ड के मौसम को हल्के में न लें।”

 

शुक्रवार को पुलिस उसी क्षेत्र में एक लाश मिली जिसे आंद्रेज पीटर की लाश होने का अंदाज़ा लगाया जा रहा है। पुलिस ने मौत के कारणों की जांच का पता लगाना शूरा कर दिया है। इंस्पेक्टर ओलाफ जेनसेन का कहना है की पीज़ोव ने उस हट में रुकने का फैसला लेकर बिल्कुल सही किया।

source: theguardian.com

Read more
बोलीविया के मंत्री की खनिकों ने हत्या की

ला पाज, 26 अगस्त| बोलीविया के उप गृहमंत्री रोडोल्फो इलानेस की गुरुवार को हत्या कर दी गई। ‘फेडकोमिन रेडियो’ के निदेशक मॉयसेस फ्लोरेस के मुताबिक, इन्हें हड़ताल कर रहे खनिकों ने बंधक बना रखा था।

bolivia miners

समाचार एजेंसी एफे ने फ्लोरेस के हवाले से बताया, “हम उस स्थान पर गए जहां उप गृहमंत्री को बंधक बनाकर रखा गया था, लेकिन वह मृत पाए गए। हम बहुत हैरान हैं। हम जोखिम में हैं।”

हड़ताल कर रहे खनिकों ने इलानेस को बंधक बना लिया था। वह खनिकों की हड़ताल समाप्त कराने का प्रयास कर रहे थे। उन्होंने गुरुवार को कहा भी था कि प्रशासन को प्रदर्शनकारियों के साथ बातचीत करनी चाहिए।

इलानेस ने इससे पहले संवाददाताओं से कहा था, “मुझे बंधक बना लिया गया है, लेकिन मेरे साथ किसी तरह का दुर्व्यवहार नहीं किया गया। मैं अच्छी अवस्था में हूं। मेरे परिवार को चिंतित होने की जरूरत नहीं है।”

Read more